WEST CHAMPARAN (MR) : पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election 2021) की डेट अभी आयी नहीं है। लेकिन, माहौल बदलने लगा है। पश्चिम चंपारण के ग्रामीण क्षेत्रों (Rural Areas) में लोगों में उत्साह देखते ही बन रहा है। यूं कहें कि पंचायत चुनाव की डुगडुगी बजने में अभी देर है, किंतु भावी प्रत्याशी पूरी तरह एक्टिव हो गए हैं। वे पंचायत परिक्रमा लगाने लगे हैं। वे अपने मुहल्ले के अलावा दूसरे मुहल्लों के लोगों से कांटैक्ट कर रहे हैं। साथ ही
वोट देने की अपील कर रहे हैं। अपनी खूबियां बता वोटरों को रिझाया जाना शुरू हो गया है। पुराने गिले-शिकवे भुलाने के लिए भी भावी प्रत्याशी काम कर रहे हैं। विकास बरसने लगा है।अभी पावर की कुर्सी यानी मुखिया पद के उम्मीदवार ही सबसे ज्यादा एक्टिव हो गए हैं। पंचायत समिति सदस्य, सरपंच, वार्ड और पंचों की सक्रियता अभी थोड़ी कम दिख रही है।

दिखने लगे हैं Poster-Banner
ग्रामीण इलाकों के चौक-चौराहे भावी प्रत्याशियों के बैनर व पोस्टर से पट गए हैं। चौक-चौराहे पर लगे टेलीफोन और बिजली के खंभे, पेड़, सड़क किनारे के घर की दीवारों पर बड़े-बड़े बैनर, पोस्टर, होल्डिंग लटक गए हैं। प्रमुख जगहों पर बैनर लगाने को लेकर कभी-कभार प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच नोक-झोंक/पैदा हो जाती है। चुनाव के होड़ में खुद को बरकरार रखने के लिए भावी उम्मीदवारों बने बैनर लटकाने में अभी पूरी ताकत झोंक दी है। सोशल मीडिया पर भी अंकुश है।

Social Media का सहारा
ज्यादा से ज्यादा वोटरों तक अपनी बात पहुंचाने और वोटरों को रिझाने के लिए प्रत्याशी सोशल मीडिया का भी जमकर उपयोग कर रहे हैं। दूसरा, व्हाट्स ग्रुप (WhatsApp Group) भी बनाया है, ताकि इसके माध्यम से ही एक-दूसरे का विचार जान-समझ चुनावी रणनीति बनाई जा रही है।

Previous article2021 में कब-कब है एकादशी व्रत, किनकी होती पूजा, जानें सबकुछ
Next articleनगर पंचायत : चौंकिए नहीं… केवल नाम है पौआखाली, उम्मीदें भरी-भरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here