AURANGABAD (MR)। औरंगाबाद स्थित मदनपुर प्रखंड की दक्षिणी उमगा पंचायत की मुखिया ने कोरोना संकट के दौर में जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री बांटी। मुखिया मालती देवी चिलमी गांव के लोगों के बीच मंगलवार 26 मई को पहुंची और खाद्य सामग्री का वितरण किया। मुखिया मालती देवी के साथ प्रमुख प्रतिनिधि सत्येंद्र यादव भी थे।

मुखिया ने कहा कि लॉकडाउन को लेकर हो रही परेशानियों को देखते हुए जरूरतमंदों के बीच राहत सामग्री बांटी गई। उन्होंने कहा कि पंचायत का कोई भी गरीब परिवार भूखा न रहे, इसका पूरा ख्याल रखा गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना एक वैश्विक महामारी है और इसे हराना है।

मुखिया ने ग्रामीणों से बाहर से आए अपने-अपने स्वजनों को क्वारंटाइन सेंटर में रखवाने की सलाह दी। अनावश्यक किसी को घर से बाहर नहीं निकलने एवं फीजिकल स्स्टिेंसिग का पालन करने को कहा। सावधानी ही कोरोना का बचाव का मुख्य उपाय है। इस मौके पर उपमुखिया पार्वती देवी, रामप्रवेश भुइयां, पप्पू कुमार, प्रमोद यादव, उदय यादव आदि उपस्थित रहे।

बता दें कि नीतीश सरकार ने पिछले दिनों ही आदेश दे रखा है कि सभी पंचायतों में हर घर मास्क व साबुन का वितरण किया जाएगा। आदेश में कहा गया था कि हर परिवार को चार मास्क और एक साबुन दिया जाएगा। इसी के तहत मुखिया व उनके प्रतिनिधि मास्क व साबुन बांट रहे हैं। इसमें वार्ड सदस्यों की भी मदद लेने को कहा गया है।

Previous articleबिहार: औरंगाबाद की बेरी पंचायत में बांटे गए साबुन-मास्क, कहा गया- फीजिकल डिस्टेंसिंग का करें पालन
Next articleकहां-कहां बचे किसान: मक्‍के की फसल को चट कर दे रहा है अमेरिकन कीट, खा जा रहा भुट्टे को

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here