DELHI (APP) : KBC के 14 वें सीजन में बिहार के हवेली खड़गपुर की बेटी शिल्प विजेता (Shilp Vijeta) ने हॉट सीट पर बैठ कर अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के सवालों का जवाब जबरदस्त ढंग से दिया। अमिताभ ने भी कई दफे उनकी प्रशंसा की। लेकिन शिल्प ने बिग बी से बातचीत में ऐसी बात कह दी कि वे भी हक्के-बक्के रह गए। इस बात पर अमिताभ तो ठहाके लगाए ही वहां मौजूद तमाम लोग भी हंसने लगे। शिल्प ने GST का नया अर्थ बताकर सबको चौंका दिया था। 

दरअसल, GST का पाला बिजनेस के क्षेत्र में पड़ता आया है। इसे लेकर सियासत भी समय-समय पर खूब होती रहती है। लेकिन GST की एंट्री अब घर में भी हो गयी है। और इसका खुलासा KBC 14 में तब हुआ, जब 22 नवंबर को प्रसारित हुए एपिसोड में हॉट सीट पर बैठी शिल्प विजेता ने GST का फुलफॉर्म बताया। KBC के 22 नवंबर वाले एपिसोड में लोगों ने देखा कि हाॅट सीट पर शिल्प विजेता ने किस तरह GST का मतलब समझा कर सबको चौंका दिया। उन्होंने शो के होस्ट अमिताभ बच्चन से बताती हैं कि मैं होम मेकर हूं और सर मैं जब गुस्से में होती हूं तो अपने पति पर GST लगा देती हूं। GST यानी घर सर्विस टैक्स (Ghar Service Tax)। 

इसके बाद बिग बी पूछते हैं कि फिर आपके पति को वो टैक्स देना पड़ता है या नहीं? इस पर शिल्प कहती हैं कि सर वो तो मना कर देते हैं, लेकिन मुझे उनका UPI पिन पता है। उनके फोन से अपने अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर लेती हूं। इसके बाद बिग बी शिल्प के पति की तरफ देख उन्हें प्रणाम करते हैं और सभी लोग हंसने लगते हैं। इसके बाद वे पूछते हैं, टैक्स कितना होता है, इस पर शिल्प ने बताया- सर, यह हमारे गुस्सा पर डिपेंड करता है। यह टैक्स 1000 और 2000 का होता है और कभी-कभी उससे भी अधिक। 

बता दें कि शिल्प विजेता की जन्मभूमि जमुई जिले के सुग्गी गांव में है, लेकिन उनकी कर्मभूमि हवेली खड़गपुर है। उनके पिता सच्चिदानंद प्रसाद खड़गपुर अनुमंडल कार्यालय में स्टेनो के पद पर कार्यरत हैं। शिल्प की प्रारंभिक पढ़ाई हवेली खड़गपुर के संत टेरेसा सेमिनरी में हुई है। छठी कक्षा से मैट्रिक तक की शिक्षा पंचकुमारी कन्या उच्च विद्यालय, इंटर राजकीय प्लस टू उच्च विद्यालय और स्नातक की शिक्षा हरि सिंह महाविद्यालय हवेली खड़गपुर से हुई। इसके अलावा शिल्प इग्नू से स्नातकोत्तर की शिक्षा प्राप्त करने के बाद टीचर के रूप में मध्य विद्यालय रमनकाबाद में योगदान किया। शिल्प वहां 2013 से 16 तक टीचर के पद पर कार्यरत रहीं। शिल्प विजेता की शादी मुंगेर के बेलन बाजार में हुई है और पति अनंत कुमार यूनियन बैंक नयी दिल्ली में सीनियर मैनेजर के पद पर पोस्टेड हैं। 

हालांकि, पारिवारिक दायित्व को निभाने के लिए उन्होंने टीचर की नौकरी छोड़ कर पति के साथ दिल्ली शिफ्ट कर गयी। उन्हें दो बेटियां हैं। बता दें कि शिल्प 12 प्रश्नों का सही उत्तर देकर साढ़े 12 लाख की राशि जीती है। 13 वें प्रश्न में वह अटक गयी थीं। इसके बाद उन्होंने खेल से क्विट कर लिया था। 

Previous articleसियासी गलियारे से – 8 : लोकतंत्र का सबसे बड़ा मंदिर है विधान सभा, कहते हैं पीरपैंती MLA ललन पासवान
Next articleसियासी गलियारे से – 9 : पीपरा से पहली बार MLA बने हैं रामविलास कामत, ‘कोसी समाजवाद का गढ़ है…’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here