PATNA (MR) : बिहार में साल 2021 के जाते-जाते बाघ (Tiger) ने टेंशन बढ़ा दी है। पश्चिम चंपारण के वाल्मीकि टाइगर रिजर्व (VTR) के इलाके में लोगों पर बाघ हमले कर रहे हैं। आंकड़े बताते हैं कि वीटीआर के वन प्रमंडल-दो के हरनाटाड़ वनक्षेत्र में एक पखवारे के अंदर तीन लोगों पर हमला किया है। 

मिल रही जानकारी के अनुसार, हरनाटाड़ वनक्षेत्र के बरवा काला जंगल के समीप 23 दिसंबर को सरेह में बकरी को बचाने गई 55 साल की फुलमतिया देवी पर बाघ ने हमला कर दिया। बाघ ने महिला को बुरी तरह नोंच लिया। गंभीर रूप से घायल व खून से लथपथ महिला को पीएचसी में भर्ती कराया गया। यहां से डॉक्टरों ने रेफर कर दिया। 

वीटीआर के वन संरक्षक सह क्षेत्र निदेशक हेमकांत राय के अनुसार, मामले में जांच की जा रही है। उसे मुआवजा दिलाने का प्रयास किया जा रहा है। इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि महिला पर बाघ ने बुरी तरह घायल कर दिया है। उसके सीने की हड्डी व पीठ को नोंच लिया है। कई जगहों से बाघ ने उसे घायल कर दिया है। उसका इलाज किया जा रहा है। फिलहाल उसकी स्थिति खतरे से बाहर है। 

हरनाटांड़ वनक्षेत्र अधिकारी रमेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि महिला जंगल से सटे सरेह में बकरी चरा रही थी। तभी जंगल से निकलकर बाघ ने दो बकरियों को झपट लिया। उसे बचाने गई महिला पर भी बाघ ने हमला कर दिया। इसमें महिला घायल हुई। उसका इलाज चल रहा है। वनकर्मियों को बाघ की निगरानी में लगाया गया गया है। सूत्रों की मानें तो एक पखवारे के अंदर बाघ तीन लोगों को घायल कर दिया है।

Previous articleबिहार : सारण के गांव में घुसा तेंदुआ, पंजे से दो युवकों को किया जख्मी
Next articleबिहार में घोड़परास की शुरू हुई नसबंदी, अब किसानों को मिलेगी राहत; बचेंगी फसलें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here