MADHYA PRADESH (MR) : बिहार में शराबबंदी लागू है। शराब को रोकने के पुलिस और प्रशासन दोनों को रोज पापड़ बेलना पड़ रहा है। इसके बाद भी कभी अस्पताल के मेस तो कभी थाना के बैरक में शराब मिल जा रही और कभी विधानसभा कैंपस में दारू की खाली बोतल भेंटा जा रही है। इसके उलट मध्य प्रदेश में एक चाय वाले ने गजब की मिसाल पेश की है। 

मध्य प्रदेश के शिवपुरी का यह पूरा वाक्या है। एक चाय वाला अचानक सुर्खियों में आ गया। इन दिनों खूब चर्चा में है। दरअसल, शिवपुरी में एक चाय वाले मुरारी लाल कुशवाह ने 21 दिसंबर को मोबाइल की बारात निकाली। खास बात यह है कि मुरारी लाल ने 12 हजार 500 रुपए के मोबाइल को घर तक लाने में 15 हजार रुपए खर्च किए। 

यह खर्च मोबाइल को घर तक लाने के लिए बग्घी और डीजे के किराए पर हुआ। यह सब उन्होंने अपनी बेटी के लिए किया। बताया जाता है कि पुरानी शिवपुरी के गुरुद्वारे के पास रहने वाले मुरारी लाल चाय बेचते हैं। उन्हें शराब पीने की लत थी। 

चाय वाले को 8 साल की बेटी है। उसका नाम है प्रियंका। बेटी ने जब मोबाइल खरीदने की जिद की, तो मुरारी ने पैसे न होने की बात कही। इस पर बेटी ने कहा कि शराब पीना कम कर दो, उन रुपयों से मोबाइल ले आओ। इस बात का पिता पर इतना असर हुआ और उन्होंने मोबाइल फाइनेंस कराया और बेटी के लिए धूम-धाम से उसे घर लेकर आए। 

मुरारी लाल कहते हैं-  ‘मेरी 8 साल की बेटी प्रियंका, दोनों बेटे राम और श्याम मोबाइल की जिद कर रहे थे। पैसे की कमी की वजह से मैं उन्हें मोबाइल नहीं दिला पा रहा था। अब बेटी और बेटों को खुशियां देने के लिए वे मोबाइल को इतने धूम-धाम से हम घर लाए हैं।’ उधर, मुरारी लाल की इस पहल की लोगों ने सराहना की है।

Previous articleनकलचियों के ‘शिकार’ हुए नीलोत्पल मृणाल, कहा- ‘पायरेसी से टूट रही लेखकों की आर्थिक कमर’
Next articleBig Breaking : बिहार में फिर मुखिया की हत्या, शपथ के चंद घंटे पहले रेत दिया गला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here