MUNGER (MR) : मुंगेर विश्वविद्यालय अपनी करनी की वजह से लगातार स्टूडेंट्स के निशाने पर आ रहा है। अभी वह परीक्षा केंद्र को लेकर बदनाम हो गया था तो अब परीक्षा रद्द किए जाने को लेकर स्टूडेंट्स गुस्सा गए हैं।

दरअसल, मुंगेर विश्वविद्यालय की ओर से अचानक स्नातक पार्ट 1 और पार्ट 2 की सब्सिडियरी परीक्षा रद्द कर दी गयी है। वहीं महीना बीत जाने के बाद भी प्री पीएचडी टेस्ट (पैट) का रिजल्ट प्रकाश नहीं किया गया है। इसके विरोध में आज छात्र राष्ट्रीय जनता दल की ओर से विश्वविद्यालय परिसर में तालाबंदी, आक्रोश मार्च सहित कुलपति का पुतला दहन किया गया।

आंदोलन का नेतृत्व कर रहे छात्र राजद के विश्वविद्यालय अध्यक्ष श्रवण कुमार ने कहा कि सब्सिडियरी परीक्षा के अचानक रद्द कर देने से हजारों छात्र-छात्राओं को परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन को छात्र-छात्राओं की परेशानियों से कोई मतलब नहीं है। विश्वविद्यालय प्रशासन छात्र-छात्राओं को परेशान करने का जिम्मा ले रखा है।

विश्वविद्यालय उपाध्यक्ष मनीष यादव ने कहा कि कई महीने बीत जाने के बाद भी पैट का रिजल्ट नहीं प्रकाशित किया गया है। कई बार कुलपति को ज्ञापन सोपा गया, इसके बाद भी रिजल्ट प्रकाशित नहीं किया गया। जबकि, उसी समय तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय में पैट परीक्षा ली गई थी, जिसका रिजल्ट के साथ इंटरव्यू भी लिया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन जान-बूझकर शोध छात्रों को परेशान कर रहा है। कार्यक्रम में सबा करीम, कायनात करीम, मुस्कान, विश्वजीत राणा, सूरज भान, लालू यादव, मो अफजल, सोनू यादव, राहुल, सौरभ, सुमित राज, प्रशांत रंजन, रौशन समेत दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

Previous articleखूब रील बनाइये इन पर, पुरस्कार में मिलेगा एक लाख; बिहार में पर्यटन विभाग की शानदार पहल
Next articleअक्षरा सिंह ने मटक-मटक कर मचाया धमाल, मनचलों को भी अपने स्टाइल में दिया जवाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here