गोपालगंज के मनोज तिवारी बने हरियाणा राज्य परशुराम परिषद के कोषाध्यक्ष, कहा- पुजारियों और शक्तिपीठों को आर्थिक आधार पर मिले आरक्षण

0
92

GOPALGANJ (MR) : राष्ट्रीय परशुराम परिषद की हरियाणा राज्य इकाई की प्रथम प्रदेश कार्यकारिणी की आज बैठक हुई। पंचकूला के सेक्टर 12-ए स्थित भगवान परशुराम भवन में इसका आयोजन किया गया। बैठक में परिषद के हरियाणा प्रदेश के कोषाध्यक्ष के रूप में गोपालगंज के मनोज तिवारी का चयन किया गया. कोषाध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम ने न केवल बुराई का न केवल नाश किया, बल्कि भगवान शिव की अनन्य भक्ति प्रेरणा तथा शिक्षा से समूचे मानव जाति का कल्याण किया।

उन्होंने कहा कि भगवान परशुराम से बड़ा कोई शिक्षक नहीं हुआ और ना महान योद्धा। बैठक में ब्राह्मण कल्याण बोर्ड और आयोगों को स्थापित करने की आवाज उठाई गई। इसके साथ ही सभी पुजारियों और शक्तिपीठों को सरकार की ओर से वेतन मिलने और आर्थिक आधार पर आरक्षण देने की मांग की गई। उन्होंने यह भी कहा कि मैं बेहद आभारी हूं कि कोषाध्यक्ष जैसे जिम्मेदारी के पद के लिए मेरा चयन किया गया। पूर्ण निष्ठा के साथ अपने कर्त्तव्य का निर्वाह करूंगा।

परिषद के संस्थापक संरक्षक तथा मुख्य न्यासी पंडित सुनील भारद्वाज भराला ने कोषाध्यक्ष के पद पर मनोज तिवारी की नियुक्ति के लिए उन्हें बधाई दी। भराला ने कहा कि संगठन को मनोज जी की काबिलियत, योग्यता और प्रतिभा पर पूरा भरोसा है। वह कोषाध्यक्ष के रूप में अपने कार्यों से संगठन को नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे। बैठक में वक्ताओं ने राजनैतिक, आर्थिक और सामाजिक तौर पर ब्राह्माणों को मजबूत बनाने पर जोर दिया। प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कौशिक ने कहा कि भगवान परशुराम की जन्मस्थली और कर्मस्थली की खोज करने का संगठन ने संकल्प लिया है। बैठक में पंचकूला की हरियाणा ग्रंथ अकादमी और कुरुक्षेत्र में गीता निकेतन स्थित हरियाणा ग्रंथ अकादमी के निदेशक और उपाध्यक्ष विरेंदर सिंह चौहान भी उपस्थित थे।

Previous articleदेखें तस्वीरें : पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने महानवमी पर परिवार संग किया हवन, मां कामख्या देवी का असम जाकर लिया आशीर्वाद
Next articleDussehra 2021 : कोमल है, कमजोर नहीं तू, शक्ति का नाम ही नारी है; संकल्प लें, तभी हारेगा रावण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here