CENTRAL DESK (MR) : नवरात्र खत्म हो गया। आज शुक्रवार (15 अक्टूबर) है। आज दशहरा है। पूरा देश रावण को जला रहा है। मां सीता को रावण से मुक्त कराने का पर्व मना रहा है। नवरात्र पर पिछले नौ दिनों में मां के नौ रूपों की लोगों ने पूजा की। समापन पर नौ कन्याओं का पूजन किया। अगले साल फिर नवरात्र आएगा। फिर कन्याएं पूजी जाएंगी। लेकिन इस गैप में महिलाओं पर हुए जुल्मों से अखबार से लेकर सोशल मीडिया भरे पड़े होंगे। 

महिलाओं के साथ ही पुरुषों को भी संकल्प लेना होगा। नारी शक्ति का साथ देना होगा। तभी नवरात्र के सही मायने होंगे। तभी हारेगा रावण। महिलाएं किसी से कम नहीं, हर फील्ड में आज वे पिक पर हैं। नारी शक्ति का अहसास गांव-गांव तक कराना होगा। कविता की यह पंक्ति- ‘कोमल है कमजोर नहीं तू,शक्ति का नाम ही नारी है !! जग को जीवन देने बाली, मौत भी तुझसे हारी है !!’ याद दिलानी होगी। यह भी बताना होगा- ‘इल्म , हुनर में, दिल दिमाग में, किसी बात में कम तो नहीं !! पुरुषों बाले सारे ही अधिकारों की अधिकारी है !!’ 

‘द बेटर इंडिया’ ने नारी शक्ति को लेकर सोशल मीडिया पर शानदार प्रजेंट किया है। देश में बेस्ट परफॉर्मेंस करने वाली महिलाओं की एक सीरीज जारी की है। नाम दिया है- नारी शक्ति के नौ रूप। हर सेक्टर की बेस्ट परफॉर्मर महिला को इसमें शामिल किया है। इसे तस्वीरों में आप भी देख सकते हैं। क्रिकेटर, हेल्थ वर्कर से लेकर सोशल एक्टिविस्ट तक शामिल हैं, जो आज के समाज की नवदुर्गा हैं। 

नारी शक्ति के ये हैं नौ रूप

Smriti Mandhana
Mavya Sudan
Shrishti Jain
Meenal Sampat
Sudha Raman
Amnindar Sandhu
Kriti Karent
Dr Maria Biju
Arushi Mudgal

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here