PATNA (MR)| बिहार में लॉकडाउन-4 चल रहा है। इसकी सीमा 31 मई तक है। इसी बीच, केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार, 20 मई से ऑटो तथा ई रिक्‍शे का परिचालन शुरू हो गया है। लेकिन बस सेवा शुरू होने में अभी देर है। मिनिमम 31 मई तक इंतजार करना होगा। वहीं, ऑटो व ई रिक्‍शा का परिचालन तो शुरू हो गया है, लेकिन कुछ यात्री कोरोना के डर से उसकी सवारी नहीं कर रहे हैं तो कुछ मनमाना भाड़ा को लेकर उसकी सवारी पसंद नहीं कर रहे हैं।

बिहार में ऑटो व ई रिक्‍शा का परिचालन दिल्‍ली के तर्ज पर ऑड-ईवन सिस्‍टम के तहत शुरू

उधर, ऑटो व ई रिक्‍शा पर दो पैंसेजर की शर्त को देखते हुए भाड़ा लगभग डबल लिया जा रहा है। पटना में इसे लेकर ऑटो संघ की ओर से लिस्ट भी जारी कर दी गई है। बता दें कि बिहार में ऑटो व ई रिक्‍शा का परिचालन दिल्‍ली के तर्ज पर ऑड-ईवन सिस्‍टम के तहत शुरू हुआ है।

बिहार सरकार ने गुरुवार को क्लियर कर दिया कि लॉकडाउन-4 में बसें नहीं चलेंगी। एक जिले से दूसरे जिले अथवा दूसरे राज्य के लिए बसें नहीं चलेंगी। परिवहन विभाग ने इसे लेकर आदेश जारी कर दिया है। आदेश में क्लियर कहा गया है कि 31 मई तक बस परिचालन में किसी तरह की छूट नहीं मिलेगी।

आदेश में यह भी कहा गया है कि लॉकडाउन-4 के दौरान बिहार में बसों का अंतरजिला और अंतरराज्यीय संचालन बिल्कुल नहीं होगा। विभाग की ओर से बसें नहीं चलाने के निर्देश का पत्र सभी जिलों के डीएम को भेज दिया गया है।

गौरतलब है कि 19 मई की शाम बिहार के परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने ऑटो एवं ई रिक्शा का परिचालन जिले के अंदर ऑड (विषम अंक) एवं ईवन (सम अंक) रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर करने की घोषणा की थी। इसके अनुसार, सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को ऑड नंबर तो मंगलवार, गुरुवार, शनिवार एवं रविवार को ईवन नंबर के वाहन चलने का नियम बनाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here