PATNA (MR) : बिहार में पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election 2021) की प्रशासनिक तैयारी चरम पर है। 10 चरणों के शेड्यूल तय कर दिये गये हैं। चुनाव की अधिसूसचना कभी भी आ सकती है। इसका काउंट डाउन शुरू हो चुका है। बिहार राज्य निर्वाचन आयोग ने सिंबल (Symbol) भी जारी कर दिए हैं। लेकिन 31 मार्च से पहले पुराने प्रतिनिधि ये काम कर लें। फिर नहीं होगी कोई प्रॉब्लम। 

जिलों को भेजे गए रिमाइंडर के अनुसार, बिहार में मुखिया समेत त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Chunav 2021) के सभी पदधारक 31 मार्च तक संपत्ति का डिटेल्स दे दें। इसमें चल-अचल, दोनों का डिटेल्स शामिल हैं। संपत्ति सार्वजनिक करने को लेकर पंचायती राज विभाग ने सभी जिलों को रिमाइंडर भेजकर याद दिलाई है। इन पदधारकों में मुखिया, उप मुखिया, प्रखंड प्रमुख, उपप्रमुख और जिला परिषद अध्यक्ष-उपाध्यक्ष आते हैं। 

हालांकि पंचायत राज विभाग की ओर से इस तरह के आदेश पहले भी सभी डीएम को जारी किए गए थे। उसमें पंचायत के पद धारकों से संपत्ति का डिटेल्स लेकर जिलों की वेबसाइट पर अपलोड करने की बात कही गई थी। लेकिन विभाग की मानें तो पंचायत चुनाव के ठीक पहले जिलों को भेजे गए रिमाइंडर काफी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं। रिमाइंडर के माध्यम से सभी जिलों के पंचायती राज पदाधिकारियों को इस पर कार्रवाई करने को कहा गया है। 

Previous articleBihar Panchayat Election 2021 : पंचायत की ‘कुर्सी’ जीतने को मुखिया से लेकर जिला पार्षद तक तैयार, किसी के पास हंसिया तो किसी के पास चौका-बेलन
Next articleBihar Panchayat Chunav 2021 : चौका-बेलन से लेकर हंसिया-खुरपी तक हैं पंचायत की लड़ाई में, निर्वाचन आयोग ने जारी कर दिए हैं सिंबल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here