HAVELI KHARAGPUR (MR): Haveli Kharagpur Panchayat Chunav 2021 Result : बिहार पंचायत चुनाव के पाँचवें चरण की मतगणना मुंगेर में भी हुई। इस चरण में हवेली खड़गपुर प्रखंड की मतगणना की गयी। इस प्रखंड का रिजल्ट भी अप्रत्याशित रहा। 18 में से सिर्फ 5 मुखिया की कुर्सी बची, जबकि बाकी 13 पंचायतों में मुखिया पद पर नये चेहरे आए। कुछ में तो बिल्कुल यंगस्टर्स। इसी यंगस्टर्स में शामिल हैं राहुल कुमार। गांव में चंदन के नाम से फेमस हैं। युवाओं के बीच ये ‘चंदन भैया’ के नाम से पॉपुलर हैं। 

राहुल उर्फ चंदन पहली बार में ही मुखिया पद की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया। उन्होंने रतैठा पंचायत से यह जीत हासिल की है। उन्होंने इस जीत के लिए रतैठा पंचायत के सभी लोगों के प्रति आभार प्रकट किया है। उन्होंने बताया कि अब हम पूरे पंचायत के प्रतिनिधि हैं। यहां के सभी लोग हमारे हैं। सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाया जाएगा। रतैठा पंचायत के नवनिर्वाचित मुखिया राहुल उर्फ चंदन ने बताया कि चुनाव में जनता ही मालिक होती है। जनता ने हम पर जो विश्वास व भरोसा जताया है, उसे हम केवल महसूस कर सकते हैं। किसी तरह का लुभावना वादा नहीं करने के बाद भी लोगों ने हम पर बड़ा दायित्व सौंपा है। बड़ी जिम्मेवारी सौंपी है। लोगों की कसौटी पर पूरी तरह खरा उतरुगा। विकास से हमारी पंचायत चमक उठेगी। 

दरअसल, रतैठा में निवर्तमान मुखिया संजय कुमार सिन्हा भारी मतों से पराजित हो गए हैं। लगातार दो टर्म मुखिया रहने के बाद भी वे कई पायदान नीचे चले गए। इस चुनाव में राहुल को सर्वाधिक 842 वोट लाकर जीत गए। 681 वोट लाकर अवधेश यादव दूसरे नंबर पर रहे। कुल 10 प्रत्याशियों में से तीसरे नंबर प्रभाष कुमार रहे। उन्हें 580 वोट मिले। लगातार दो टर्म मुखिया रहने वाले संजय सिन्हा 338 वोट लाकर पांचवें स्थान पर रहे। इस पंचायत में सबसे कम प्रवीण कुमार पासवान को महज 37 वोट मिले हैं। नीचे से दूसरे नंबर पर बिपिन यादव रहे। उन्हें महज 45 वोट आए। नीचे से ही तीसरे स्थान पर रहने वाले श्यामाकांत पाठक को महज 90 वोट आए। 

बता दें कि मुंगेर जिले में इसके पहले तारापुर, टेटिया बंबर, संग्रामपुर व असरगंज में जिस तरह मुखिया पदों के रिजल्ट आए थे, उससे हवेली खड़गपुर में भी पुराने चेहरों की धुकधुकी बढ़ गयी थी। और यह अंत तक बनी रही। इनमें संग्रामपुर की स्थिति कुछ ठीक रही कि 10 में से चार ने अपनी कुर्सी बचा ली। तारापुर और असरगंज में तो महज एक-एक मुखिया दोबारा कुर्सी पर काबिज हुए। टेटिया बंबर में दो मुखिया दोबारा चुने गए। वहीं हवेली खड़गपुर में कुल 18 में से महज पांच मुखिया की कुर्सी बची। 

यहां देखें पंचायतों में कौन मुखिया जीता, कौन बना दोबारा

  • मुखिया           : जीते (2016)  – निर्वाचित 2021 
  • तेलियाडीह पंचायत : गोपाल मोदी – धर्मवीर भारती
  • नाकी पंचायत : शोभा देवी – शोभा देवी
  • बहिरा पंचायत : बबिता देवी – रेणु देवी
  • अग्रहण पंचायत : रेखा देवी – जया किशोरी देवी
  • बढौना पंचायत : विभाष निराला – विभाष निराला 
  • गोवड्डा पंचायत : राजो सोरेन – सोनी देवी
  • कौडिया पंचायत : मुन्नी देवी – उमा देवी
  • बैजलपुर पंचायत : फुटेश्वर पासवान – विजय तांती
  • मुढेरी पंचायत : कुंदन मंडल – कुंदन मंडल
  • रतैठा पंचायत : संजय सिन्हा – राहुल कुमार
  • बरूई पंचायत : रंजन बिंद – जितेंद्र बिंद
  • रमनकाबाद पूर्वी : सुबोध मांझी – छोटे लाल प्रसाद
  • रमणकाबाद पश्चिमी : द्वारिका सिंह – द्वारिका सिंह
  • मझगांय : सुनीता देवी – संगीता कुमारी
  • मुरादे : रेणु देवी – सरस्वती देवी
  • गंगटा : फूल कुमारी देवी – निर्मला देवी
  • दरियापुर वन : रेणु देवी – रेणु देवी
  • दरियापुर टू : भोला वर्मा – आशुतोष कुमार

इतने पदों पर हुआ चुनाव

  • 02 जिला परिषद सदस्य
  • 18 मुखिया 
  • 24 पंचायत समिति सदस्य 
  • 18 सरपंच 
  • 236 पंच 
  • 236 वार्ड सदस्य 
Previous articleसास बनी मुखिया तो बहू हो गयी सरपंच, बदलाव की लहर के बीच इस जोड़ी ने बचाई अपनी कुर्सी
Next articleBihar ByElection Result : महाफाइनल में नीतीश ने लालू को पछाड़ा, तारापुर-कुशेश्वर स्थान पर JDU का कब्जा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here