PATNA (RAJESH THAKUR) : मैं माटी हूं, मेरे नाम में मां है… ‘धरती कहे पुकार के’ नामक नाटिका के जरिये धरती मां ने किसानों की पीड़ा को रखा। उन्होंने धरती को सुरक्षित रखने का संदेश भी दिया। साथ ही अच्छी खेती के टिप्स भी दिए। कार्यक्रम को पटना स्थित बीजेपी मुख्यालय में भी बड़े पर्दे पर देखा गया। कार्यक्रम भोपाल से लाइव चल रहा था। 

दरअसल, आज मंगलवार 27 जून को भाजपा के सभी डिजिटल प्लेटफॉर्म और यूट्यूब पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भोपाल से सम्बोधित किया। मेरा बूथ सबसे मजबूत संवाद कार्यक्रम में उनके सम्बोधन को एक साथ देश के 11 लाख बूथों के कार्यकर्ताओं ने सुना। भोपाल में आयोजित इस कार्यक्रम को राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी सम्बोधित किया।

बिहार की राजधानी पटना स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी समेत बीजेपी के तमाम नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुना। पीएम को सुनने के लिए बिहार में 77 हजार 729 बूथों तथा 11 हजार 29 मंडलों पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। पटना स्थित बीजेपी मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी के अलावा पूर्व उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, पूर्व मंत्री जीवेश मिश्रा, पूर्व मंत्री शाहनवाज हुसैन समेत अन्य मौजूद रहे।

कार्यक्रम में बताया गया कि नरेंद्र मोदी केवल नेता नहीं हैं, बल्कि वे मार्गदर्शक भी हैं, गाइड भी हैं, फिलोस्फर भी हैं। यह हमारे लिए गर्व की बात है कि पीएम मोदी का अमेरिका में जबरदस्त स्वागत किया गया। अमेरिकी सांसद में जब मोदी ने सम्बोधित किया तो 79 बार सांसदों ने तालियों की गड़गड़ाहट से स्वागत किया, जबकि 15 बार सांसदों ने बीच भाषण में खड़ा होकर सम्मानित किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘भाजपा की सबसे बड़ी ताकत आप सभी कार्यकर्ता हैं। आप सिर्फ बीजेपी ही नहीं, आप सब सिर्फ दल ही नहीं, देश के संकल्पों के सिद्धी के भी मजबूत सिपाही हैं। भाजपा के हर कार्यकर्ता के लिए देश हित सर्वोपरि है, दल से बड़ा देश है।’ उन्होंने आगे कहा- ‘आज मैं एक साथ बूथ पर काम करने वाले 10 लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहा हूं। शायद किसी भी राजनीतिक दल के इतिहास में ग्रास रूट लेवल पर Organised way में इतना बड़ा कार्यक्रम कभी नहीं हुआ होगा।’

बिहार के मोतिहारी निवासी रिपु सिंह के अलावा अन्य राज्यों के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री से बूथों की मजबूती से लेकर केंद्रीय योजनाओं तक के बारे में सवाल किया। पीएम मोदी ने कहा- ‘बूथ अपने आप में एक बहुत बड़ी इकाई है। हमें कभी बूथ की इकाई को छोटा नहीं समझना चाहिए। बहुत सी ऐसी चीजें होती हैं जहां जमीनी फीडबैक बहुत जरूरी होता है और जो बूथ के हमारे साथी हैं वो इसमें बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री अगर कोई सफल नीति बनाता है तो मान लेना कि इसमें बूथ स्तर की जानकारी की बहुत बड़ी ताकत होती है। हम उनमें से नहीं हैं, जो AC वाले कमरों में बैठ कर पार्टियां चलाते हैं और फतवे निकालते हैं। हम तो वो लोग हैं जो गांव-गांव जा कर हर मौसम, हर परिस्थिति में जनता के बीच खुद को खपाते हैं।’

इधर बिहार प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा- ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सेवा, सुशासन और गरीब कल्याण को समर्पित स्वर्णिम कार्यकाल के 9 साल पूर्ण होने पर वाराणसी लोकसभा के मेरा बूथ सबसे मजबूत के अंतर्गत उन्होंने भोपाल से पूरे देश के कार्यकर्ताओं को बूथ विजय संकल्प अभियान की शपथ दिलाई। इस संवाद कार्यक्रम को प्रदेश भाजपा कार्यालय में पार्टी के वरीय नेताओं व कार्यकर्ताओं के साथ सुना।’ उन्होंने यह भी कहा कि बूथ विजय कर हम 2024 के चुनावों को भारी बहुमत से जीतेंगे, ऐसा हम सब कार्यकर्ताओं का संकल्प है।

Previous articleजेपी की राह पर नीतीशः नरेंद्र मोदी के खिलाफ पटना में शंखनाद, शिमला में खुलेंगे सियासी पत्ते
Next articleकोईरी-दांगी के बीच फंस गयी अमेरिका वाली मुखिया, निर्वाचन आयोग ने कुर्सी से हटाया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here