PATNA (MR)। बिहार के गांव-गांव में रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री व बीजेपी के वरीय नेता अमित शाह की आवाज गूंजी। मौका ​था वर्चुअल रैली का। दिल्ली से अमित शाह ने चुनावी शंखनाद किया और कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में दो तिहाई बहुमत से एनडीए की सरकार बनेगी। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि आज के इस जन संवाद कार्यक्रम का बिहार विधानसभा चुनाव से कोई संबंध नहीं है। लेकिन, बिहार के सियासी गलियारे में चर्चा आम है कि आज से बिहार में चुनावी शंखनाद हो गया।

निशाने पर रहा लालू परिवार
केंद्रीय गृह मंत्री व बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के निशाने पर एक बार फिर लालू परिवार ही रहा। लालू परिवार से बाहर यह वर्चुअल रैली बाहर नहीं निकल पाई। उन्होंने लालू राज बनाम नीतीश राज को लेकर कई सियासी तीर छोड़े। लालटेन युग के जाने पर एलइडी युग के आने की बात कही। लालू राज को लूट एंड ऑर्डर बताया तो नीतीश राज को लॉ एंड ऑर्डर करार दिया। उन्होंने जंगलराज की तुलना आज के जनता राज से की। इसके अलावा अमित शाह ने चारा घोटाला से लेकर आज तेजस्वी की थाली पॉलिटिक्स को भी निशाने पर रखा। हालांकि उन्होंने तेजस्वी का अपने भाषण में नाम ​नहीं लिया।

नीतीश-सुशील की जोड़ी को बताया बेहतर
अमित शाह ने बिहार की एनडीए सरकार की तारीफ करते हुए नीतीश कुमार और सुशील मोदी की जोड़ी को बेहतर बताया। कहा कि नीतीश ने लालटेन युग का खात्मा कर दिया। बिहार में ढाई करोड़ लोगों के घरों में बिजली पहुंच गई है। एलइडी का जमाना आ गया है। यह एनडीए सरकार की उपलब्धि है। जंगलराज का जवाब सरकार जनताराज से दे रही है। अब चारा घोटाला का जमाना गया है। बिचौलिया का जमाना गया। डीबीटी के माध्यम से जनता के अकाउंट में सीधे पैसे जा रहे हैं। कोरोना संकट के समय भी जनता के खाते में पैसे भेजे गए।

कोरोना से हुई मौत पर व्यक्त की संवेदना
केंद्रीय गृह मंत्री ने कोरोना संक्रमण से हुई मौत पर संवेदना व्यक्त की। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से हुई मौतों से मैं भी काफी दुखी हूं। कोरोना से जंग लड़ने वाले योद्धा का मैं सलाम व सम्मान करता हूं। इस कोरोना संकट में स्वास्थ्य कर्मी, डॉक्टर, पुलिस आदि योद्धा की तरह काम कर रहे हैं। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे आत्मनिर्भर भारत के बनाने में सहयोग करें।

बुद्ध-महावीर की भूमि को किया नमन
अमित शाह ने बुद्ध, महावीर और चंद्रगुप्त की भूमि को नमन किया। कहा कि बिहार ने मगध साम्राज्य के रूप में विश्व को पहला लोकतंत्र दिया। बिहार ने ही लोकनायक जयप्रकाश नारायण और राम मनोहर लोहिया जैसे नेताओं को दिया। मैं इन नेताओं को नमन करता हूं।

मंच पर नित्यानंद-रविशंकर भी मौजूद
दिल्ली में अमित शाह के लिए मंच बनाया गया था और उस मंच पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के अलावा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद समेत अन्य मंत्री मौजूद थे, जबकि पटना में अटल बिहारी सभागार में मंच बनाया गया था, जिस पर प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी समेत अन्य मौजूद रहे। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया। वहीं, गांव-गांव में लोगों ने टीवी, लैपटॉप, मोबाइल के अलावा एलइडी स्क्रीन लगाकर वर्चुअल रैली के माध्यम से अमित शाह के भाषण को बीजेपी के पदाधिकारियों, नेताओं व समर्थकों ने सुना।

इसे भी पढ़ें : बिहार से सिंगापुर तक RJD ने पिटी थाली, पटना में राबड़ी-तेज-तेजस्वी तो विदेश में लालू की बिटिया ने अमित शाह का किया विरोध

Previous articleबिहार से सिंगापुर तक RJD ने पिटी थाली, पटना में राबड़ी-तेज-तेजस्वी तो विदेश में लालू की बिटिया ने अमित शाह का किया विरोध
Next articleखेत-खलिहान व मौसम के फेमस जनकवि थे घाघ… दिन में गरमी रात में ओस, कहे घाघ बरखा सौ कोस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here