दिल्‍ली। कोरोना संकट में दूसरे प्रदेशों में फंसे बिहार और यूपी के लोगों के लिए गुड न्यूज। वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत इन प्रदेशों के लोग अब कहीं से भी राशन (खाद्य सामग्री) ले सकते हैं। केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्री रामविलास पासवान ने मजूदर दिवस पर इसकी घोषणा की है। इस तरह, इस योजना से अब देश के 17 राज्य जुट गए हैं।

दरअसल, कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। इतना ही नहीं, लॉकडाउन की अवधि का विस्तार कर दिया गया है। अब इसका विस्तार 17 मई तक किया गया है। ऐसे में लॉकडाउन में घिरे दूसरे प्रदेशों में फंसे बिहार और यूपी के लोगों के प्रवासी लोगों को इस योजना से फायदा होगा। अब वह अपने राशन कार्ड से जहां रह रहे हैं, वहीं से राशन का उठाव कर सकेंगे।

पासवान ने बताया कि वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना से मजदूर दिवस पर बिहार व यूपी के अलावा पंजाब, हिमाचल प्रदेश तथा दमन और दीव भी जुड़ गये। शुक्रवार को पांच राज्यों के जुड़ने के साथ ही इस योजना से जुड़ने वाले राज्यों की संख्या बढ़कर 17 हो गयी है। इस योजना में 12 राज्य पहले से जुड़े हुए हैं। इनमें आंध्र प्रदेश, गोवा, गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, झारखंड, केरल, राजस्थान, तेलंगाना आदि शामिल थे।

केंद्रीय मंत्री पासवान ने बताया कि बिहार व यूपी समेत जुड़े सभी नये राज्यों में एक मई से इस पर अमल शुरू करने का निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिया गया है। गौरतलब है कि बिहार व यूपी की आबादी अधिक है, ऐसे में इस योजना से इन दोनों राज्यों को जोड़ने में टेक्निकल प्रॉब्लम आ रही थी। लेकिन कोरोना संकट को देखते हुए इसमें तेजी लायी गयी। इस योजना के लागू होने से लॉकडाउन में फंसे मजदूरों को काफी राहत मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here