GAYA (MR) : बिहार में अब पंचायत चुनाव की तैयारी शुरू हो गयी है। सभी 38 जिलों में प्रशासन ने कमर कस ली है। दरअसल, निर्वाचन आयोग कभी भी इसे लेकर अपडेट स्थिति के बारे में जानकारी ले सकता है। ऐसे उम्मीद की जा रही है कि सितंबर-अक्टूबर में चुनाव हो सकता है। मिल रही जानकारी के अनुसार, गया जिला प्रशासन ने अपने इलाके में, 10 चरणों में पंचायत चुनाव कराने की तैयारी की है। 

जिला प्रशासन की मानें तो पंचायत चुनाव को लेकर जिला अधिकारी सह निर्वाचन अधिकारी के आदेश पर 10 चरणों में चुनाव कराने का ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है। इसका प्रस्ताव राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव को भेजा गया है। प्रस्ताव के अनुसार, पांच अलग-अलग चरणों में दो-दो प्रखंडों की पंचायतों में वोटिंग करायी जायेगी। इसके बाद दो अलग-अलग चरणों में तीन-तीन प्रखंडों की पंचायतों में वोटिंग करायी। शेष तीन अलग-अलग चरणों में दो- दो प्रखंडों की पंचायतों में वोटिंग होगी। 

सूत्रों की मानें तो वोटिंग की डेट का भी प्रस्ताव तैयार किया गया है, लेकिन उसे सरकार की ओर से घोषणा किए जाने के बाद ही सार्वजनिक किया जाएगा। 10 चरणों में चुनाव को ले जाने के पीछे का कारण है कि जिले के आधे से अधिक पंचायत नक्सल प्रभावित क्षेत्र में आते हैं। कई पंचायतों में नक्सलियों का दबदबा अब भी कायम है। यही वजह है कि जिला प्रशासन ने चुनाव को शांतिपूर्वक निबटाने के लिए लंबे समय का खाका तैयार कर प्रस्ताव भेजा है।

Previous articleBihar Panchayat Chunav 2021 : बिहार में पंच-सरपंच के चुनाव में नहीं होगा इवीएम का इस्तेमाल, जानिए क्या है कारण
Next articleBihar Panchayat Chunav 2021 : बिहार में 20 सितंबर से 25 नवंबर के बीच होंगे पंचायत चुनाव, निर्वाचन आयोग की अनुशंसा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here