निजीकरण की जलेबी में उलझता भारत, ‘इसमें तेरा घाटा, मेरा कुछ नहीं जाता’

रेलवे, बैंक, ऐरोप्लने… सब निजीकरण की राह पर है। कुछ बिक गए, कुछ बिकने वाले हैं और कुछ की प्लानिंग…