VARANASI (MR) : चर्चित ब्लॉगर और साहित्यकार एवं संप्रति वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव को विशिष्ट कृतित्व, रचनाधर्मिता और प्रशासन के साथ-साथ सतत् साहित्य सृजनशीलता के लिए ‘साहित्य शिल्पी सम्मान’ से नवाजा गया। राष्ट्रीय मासिक पत्रिका ‘सच की दस्तक’ की ओर से पं. दीनदयाल उपाध्याय नगर में आयोजित सम्मान समारोह में आज सिक्किम के राज्यपाल लक्ष्मण प्रसाद आचार्य ने उन्हें सम्मानित किया।

बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी कृष्ण कुमार यादव की विभिन्न विधाओं में सात पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। देश-विदेश की तमाम पत्र-पत्रिकाओं और इंटरनेट पर निरंतर प्रकाशन के साथ आकाशवाणी व दूरदर्शन से भी विभिन्न विधाओं में इनकी सृजनात्मकता का प्रसारण होता रहता है। इनके कृतित्व पर एक पुस्तक ‘बढ़ते चरण शिखर की ओर : कृष्ण कुमार यादव’ भी प्रकाशित हो चुकी है। 

 गौरतलब है कि कृष्ण कुमार यादव लोकप्रिय प्रशासक के साथ ही सामाजिक, साहित्यिक और समसामयिक मुद्दों से सम्बंधित विषयों पर प्रमुखता से लेखन करने वाले साहित्यकार, विचारक और ब्लॉगर भी हैं। देश-विदेश में विभिन्न प्रतिष्ठित सामाजिक-साहित्यिक संस्थाओं द्वारा आपको शताधिक सम्मान और मानद उपाधियाँ प्राप्त हैं। उ.प्र. के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ‘अवध सम्मान’, पश्चिम बंगाल के तत्कालीन राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने ‘साहित्य-सम्मान’, छत्तीसगढ़ के तत्कालीन राज्यपाल शेखर दत्त ने ’विज्ञान परिषद शताब्दी सम्मान’ से नवाजा था।

इन्हें अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर्स सम्मेलन, नेपाल, भूटान और श्रीलंका में भी सम्मानित किया जा चुका है। विभागीय दायित्वों और हिंदी के प्रचार-प्रसार के क्रम में अब तक श्री यादव लंदन, फ्रांस, जर्मनी, नीदरलैंड, दक्षिण कोरिया, भूटान, श्रीलंका, नेपाल जैसे देशों की यात्रा कर चुके हैं। खास बात कि इनके पिताजी रामशिव मूर्ति यादव और इनकी पत्नी आकांक्षा भी चर्चित ब्लॉगर और साहित्यकार हैं। वहीं बड़ी बेटी अक्षिता (पाखी) भी अपनी उपलब्धियों से भारत सरकार की ओर से सबसे कम उम्र में राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित हो चुकी हैं।

वाराणसी में आयोजित कार्यक्रम के मौके पर सोमनाथ संस्कृत विश्वविद्यालय गुजरात के पूर्व कुलपति प्रो. गोपबन्धु मिश्र, अन्तर विश्वविद्यालय शिक्षा केन्द्र (बी.एच.यू.) वाराणसी के निदेशक प्रो. प्रेम नारायण सिंह, महामना मदन मोहन मालवीय हिन्दी पत्रकारिता संस्थान के अध्यापक डॉ. नागेन्द्र सिंह, पं. दीनदयाल उपाध्याय नगर के विधायक रमेश जायसवाल सहित तमाम गणमान्य जन उपस्थित रहे।

Previous articleRaksha Bandhan 2023 : जान लें कब है रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त
Next articleपटना को चकाचक करने के लिए लगातार अलख जगा रही हैं फोक सिंगर नीतू नवगीत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here